Check out our best collection of shayari on life. Life shows us up and down in many ways. We need to fight with our problems. These life shayari help you to give boost power to fight with your problems. Let share these shayari with your friends and family…

 Life Shayari ( Shayari On Life) In Hindi / English

Zindagi Tasveer Bhi Hai Aur Takdeer Bhi,
Fark To Sirf Rango Ka Hai,
Manchahe Rangon Se Bane To Tasveer, Aur
Anchahe Rango Se Bane To Takdeer.
ज़िन्दगी तस्वीर भी है और तक़दीर भी,
फर्क तो सिर्फ रंगों का है।
मनचाहे रंगों से बने तो तस्वीर, और
अनजाने रंगों से बने तो तक़दीर।
In Andheron Me Muje Ek Roshni Si Dikhti Hai,
Kahin Ye Meri Zindagi To Nahin,
Jaise Badiyon Me Samil Koi Nami Si Dikhti Hai,
Kahin Ye Meri Zindagi To Nahin,
Main Tnha Baitha Hun, Kisi Ped Ki Chhav Me, Aur
Wo Phool Ki Ek Kali Si Dikhti Hai,
Kahin Ye Meri Zindagi To Nahin,
इन अंधेरों में मुझे एक रौशनी सी दिखती है,
कहीं ये मेरी ज़िन्दगी तो नहीं,
जैसे वादियों में शामिल कोई नमी सी दिखती है,
कहीं ये मेरी ज़िन्दगी तो नहीं,
में तन्हां बैठा हूँ, किसी पेड़ की छांव में, और
वो फूल की एक कली सी दिखती है,
कहीं ये मेरी ज़िन्दगी तो नहीं।
Aankho Ko Ashq Ka Pata Na Chalta,
Dil Ko Dard Ka Ehsaas Na Hota,
Kitna Haseen Hota Zindagi Ka Safar,
Agar Milkar Kabhi Bchadna Na Hota.
आँखों को अश्क का पता न चलता,
दिल को दर्द का एहसास न होता,
कितना हसीन होता जिंदगी का सफ़र,
अगर मिलकर कभी बिछड़ना न होता।
Zindagi Hasin Hai Zindagi Se Pyaar Karo,
Hai Rat To Subah Ka Intzar Karo,
Wo Pal Bhi Ayega Jiska Intzaar Hai Aapko,
Rab Pr Bharosa Aur Waqt Pe Aitbar Rakho.
ज़िन्दगी हसीं है ज़िन्दगी से प्यार करो,
है रात तो सुबह का इंतज़ार करो,
वो पल भी आयेगा जिसका इंतज़ार है आपको,
रब पर भरोसा और ज़िन्दगी पर ऐतबार रखो।
Lamhon Ki Khuli Kitab Hai Zindagi,
Khayalo Aur Sanso Ka Hisab Hai Zindagi,
Kuch Jaruraten Poori Kuch Khwahise Adhoori,
Inhi Sawalo Ke Jabab Hain Zindagi.
लम्हों की खुली किताब हैं ज़िन्दगी,
ख्यालों और सांसों का हिसाब हैं ज़िन्दगी,
कुछ ज़रूरतें पूरी, कुछ ख्वाहिशें अधूरी,
इन्ही सवालों के जवाब हैं ज़िन्दगी।
Dard Kaisa Bhi Ho Aankh Nam Na Karo,
Raat Kaali Sahi Lekin Gham Na Karo,
Ek Sitara Ban Jagmagate Raho,
Zindagi Me Yun Hi Sada Muskurate Raho.
दर्द कैसा भी हो कभी आँख नम ना करो,
रात काली सही लेकिन ग़म ना करो,
एक सितारा बन जगमगाते रहो,
ज़िन्दगी में यूँ ही सदा मुस्कुराते रहो।
Chehre Ki Hansi Se Gham Ko Bhula Do,
Kam Bolo Par Sb Kuch Bata Do,
Khud Na Rutho Par Sabko Hansa Do,
Yahi Raaz Hai Zindagi Ka Jio Aur Jeena Sikha Do,
चेहरे की हँसी से ग़म को भुला दो,
कम बोलो पर सब कुछ बता दो,
खुद ना रूठो पर सब को हँसा दो,
यही राज़ है ज़िन्दगी का जियो और जीना सीखा दो।
Phool Banke Khushbu Failna Hi Hai Zindagi,
Har Dard Ko Hansi Me Chhupa Lena Hi Hai Zindagi,
Zindagi Me Jeet Mili To Kya Hua,
Haar Kar Bhi Khushi Jatana Hi Hai Zindagi.
फूल बनके खुशबू फैलना ही है ज़िंदगी,
हर दर्द को हँसी में छुपा लेना ही है ज़िन्दगी,
ज़िंदगी में जीत मिली तो क्या हुआ,
हार कर भी ख़ुशी जताना ही है ज़िंदगी।
Karne Lage Hisab -Ai-Zindagi To Ro Baithe,
Ginte Rahe Salon Ko Aur Lamhon Ko Kho Baithe.
करने लगे हिसाब -ऐ- जिन्दगी तो रो बैठे,
गिनते रहे सालों को और लम्हों को खो बैठे।
Jee Rahe Hain Teri Sharto Ke Mutaabiq-E-Zindagi,
Daur Aaega Kabhi, Hamari Farmaisho Ka Bhi.
जी रहे है तेरी शर्तो के मुताबिक़ ए जिंदगी,
दौर आएगा कभी, हमारी फरमाइशो का भी।
Halki-Fulki Si Hai Zindagi…
Bojh To Khwahishon Ka Hai.
हल्की-फुल्की सी है जिंदगी…
बोझ तो ख्वाहिशों का है।
Zindagi… Bus Itna De Do To Kaafi Hai
Sir Se Chadar Na Hate Paon Bhi Chadar Me Rahen.
ज़िन्दगी.. बस इतना अगर दे दो तो काफी है,
सिर से चादर ना हटे, पाँव भी चादर में रहें।
Choom Lo Har Mushkil Ko Apna Maan Kar,
Kyunki Zindagi Kaisi Bhi Hai… Hai To Apni Hi.
चूम लो हर मुश्किल को अपना मान कर,
क्योंकि ज़िन्दगी कैसी भी है… है तो अपनी ही।
Zindagi Ke Raaz Ko Raaz Rahne Do,
Agar Hai Koi Aitraz To Rahne Do,
Par Jab Dil Kare Hame Yaad Karne Ko,
To Use Ye Mat Kahna Ke Aaj Rahne Do.
जिंदगी के राज़ को राज़ रहने दो,
अगर है कोई ऐतराज़ तो रहने दो,
पर जब दिल करे हमें याद करने को,
तो उसे ये मत कहना के आज रहने दो।
Roothi Si Zindagiko Manana To Ataa Hai,
Ruthe Huye Logon Ko Hasana To Ataa Hai,
Kya Huaa Jo Na Bus Sake Kisi Ke Dil Me,
Logo Ko Apne Dil Me Basana To Ataa Hai.
रूठी सी ज़िन्दगी को मनाना तो आता है,
रूठे हुए लोगों को हँसाना तो आता है,
क्या हुआ जो न बस सके किसी के दिल में,
लोगों को अपने दिल में बसाना तो आता है।
Bahut Kuchh Sikha Jaati Hai Zindagi,
Hansa Ke Rula Jaati Hai Zindagi,
Jee Sako Jitna Utna Jee Lo Dosto,
Kyoki Bahut Kuchh Baaki Rah Jaata Hai,
Aur Khatm Ho Jaati Hain Zindagi.
बहुत कुछ सिखा जाती है ज़िंदगी,
हंसा के रुला जाती हैं ज़िंदगी,
जी सको जितना उतना जी लो दोस्तो,
क्योकि बहुत कुछ बाकी रह जाता है,
और ख़त्म हो जाती हैं ज़िंदगी।
Ai Gham-e-Zindagi Na Ho Naraz,
Mujhko Aadat Hai Muskurane Ki.
ऐ ग़म-ए-ज़िंदगी न हो नाराज़,
मुझको आदत है मुस्कुराने की।
Jara Muskurana Bhi Sikha De Ai Zindagi,
Rona To Paida Hote Hai Seekh Liya Tha.
ज़रा मुस्कुराना भी सीखा दे ऐ ज़िंदगी,
रोना तो पैदा होते ही सीख लिया था।
Zindagi Sayad Isi Ka Naam Hai,
Duriyan Majbooriyan Tanhaiyan.
ज़िन्दगी शायद इसी का नाम है,
दूरियां मज़बूरियां तन्हाईयाँ।
Kitni Sachchai Se Mujh Se Zindagi Ne Kah Diya,
Tu Nahin Mera To Koi Doosra Ho Jayega.
कितनी सच्चाई से मुझ से ज़िंदगी ने कह दिया,
तू नहीं मेरा तो कोई दूसरा हो जाएगा।
Ai Zindagi Kash Tu Hi Ruth Jati Mujh Se,
Ye Ruthe Hue Log Mujh Se Mnaye Nahin Jate.
ऐ ज़िंदगी काश तू ही रूठ जाती मुझ से,
ये रूठे हुए लोग मुझ से मनाये नहीं जाते।
Zindagi Ek Raat Hai, Jisme Na Jaane Kitne Khwab Hain,
Jo Mil Gaya Wo Apna Hai Jo Toot Gaya Wo Sapna Hai
ज़िंदगी एक रात है, जिसमें ना जाने कितने ख्वाब हैं,
जो मिल गया वो अपना है, जो टूट गया वो सपना है।
Rukti Nahi Kisi Ke Liye Mauje-Zindagi,
Dhaare Se Jo Hate Wo Kinare Par Aa Gaye.
रूकती नहीं किसी के लिए मौजे-ज़िन्दगी,
धारे से जो हटे वो किनारे पर आ गए।
Zindagi Joker Si Nikli,
Koi Apna Bhi Nahin Koi Paraya Bhi Nahin.
ज़िन्दगी जोकर सी निकली,
कोई अपना भी नहीं…कोई पराया भी नहीं.
Zindagi Ki Har Subah Kuch Sharte Le Kar Aati Hai,
Zindagi Ki Har Shaam Kuch Tajurbe De Kar Jati Hai.
ज़िन्दगी की हर सुबह कुछ शर्ते ले कर आती है,
ज़िन्दगी की हर शाम कुछ तजुर्बे दे कर जाती है।
Kuchh Dino Se Zindagi Mujhe Pahachanati Nahin
Yun Dekhti Hai Jaise Mujhe Janati Nahin.
कुछ दिनो से ज़िंदगी मुझे पहचानती नहीं
यूँ देखती है जैसे मुझे जानती नहीं।
Sirf Zinda Rahne Ko Zindagi Nahin Kahte,
Kuchh Gam-E-Mohabbat Ho Kuchh Gam-E-Jahaan.
सिर्फ़ ज़िंदा रहने को ज़िंदगी नहीं कहते,
कुछ ग़म-ए-मोहब्बत हो कुछ ग़म-ए-जहाँ।
Pareshaan To Tumhaari Tarah Ham Bhi Bahut Hain,
Lekin Muskura Ke Jeene Me Jaata Kya Hai.
परेशान तो तुम्हारी तरह हम भी बहुत हैं,
लेकिन मुस्कुरा के जीने में जाता क्या है।