Hey friends! Are you looking for some best Dard Bhari shayari. Feeling low? Or sad? Then you are at the right place. Here we provide you the best collection of Dard Bhari shayari. these shayari definitely make you and your friends love too. So share these shayari with your friends, family.. on Whatsapp and Facebook… share shayari share love.. enjoy!
dard bhari shayari hindi 2019

Latest Dard Bhari Shayari In Hindi

Kahte Hain Dil Se Jyada Mahfooj Jagah Nahin Duniya Me Aur Koi,
Fir Na Jane Kyun Sabse Jyada Yahin Se Log Lapata Hote Hai.
dard bhari shayari hindi 2019
कहते हैं दिल से ज्यादा महफूज जगह नहीं दूनिया में और कोई,
फिर भी ना जाने क्यों सबसे ज्यादा यहीं से लोग लापता होते हैं।
dard bhari shayari hindi 2019
Wo Jaan Gai Thi Hume Dard Me Muskrane Ki Adat Hai,
Wo Roj Naya Jakhm Deti Thi Meri Khushi Ke Liye.
dard bhari shayari hindi 2019
वो जान गयी थी ,हमे दर्द में मुस्कराने की आदत हैं
वो रोज नया जख्म देती थी मेरी ख़ुशी के लिए।
dard bhari shayari hindi 2019
Tera Aur Mera Itna Hi Kissa Hai,
Tu Mere Dard Ka Ek Aham Hissa Hai.
dard bhari shayari hindi 2019
तेरा और मेरा इतना ही किस्सा हैं,
तू मेरे दर्द का एक अहम हिस्सा हैं।
dard bhari shayari hindi 2019
Kar Leta Hun Bardast Har Dard Isi Aas Ke Saath,
Ki Khuda Noor Bhi Barsata Hai Ajmaishon Ke Baad.
dard bhari shayari hindi 2019
कर लेता हूँ बर्दाश्त हर दर्द इसी आस के साथ,
कि खुदा नूर भी बरसाता है आज़माइशों के बाद।
dard bhari shayari hindi 2019
Kabhi Kisi Se Pyar Mat Karna Ai Dost,
Agar Ho Jaye Pyar To Izhaar Mat Karna,
Agar Chal Sako To Hi Chalna Is Rah Par,
Warna Kisi Ki Zindagi Barbad Mat Karna.
कभी किसी से प्यार मत करना ऐ दोस्त
अगर हो जाये प्यार तो इज़हार मत करना,
अगर चल सको तो ही चलना इस राह पर,
वरना किसी की ज़िन्दगी बर्बाद मत करना।
Aansu Girne Ki Aahat Nahin Hoti,
Dil Ke Tootne Ki Aawaj Nahin Hoti,
Gar Hota Unhen Ehsaas Dard Ka,
To Dard Dene Ki Unhen Adat Na Hoti.
आँसू गिरने की आहट नही होती,
दिल के टूटने की आवाज नहीं होती,
गर होता उन्हें एहसास दर्द का,
तो दर्द देने की उन्हें आदत न होती।
Dard Bankar Hi Rah Jao… Hamare Sath,
Suna Hai Dard Bahut Waqt Tak Saath Rahta Hai.
दर्द बनकर ही रह जाओ… हमारे साथ,
सुना है दर्द बहुत वक़्त तक साथ रहता है।
Mere Sher Samjhne Ke Liye Jara Dil Me Dard Chahiye,
Agar Samajh Na Aaye To Dard Ka Matlab Bhi Bata Sakta Hun.
मेरे शेर समझने के लिए जरा दिल में दर्द चाहिए,
अगर समझ ना आये तो दर्द का मतलब भी बता सकता हूँ।
Kisi Ne Yun Hi Pooch Liya Humse
Ki Dard Ki Keemat Kya Hai,
Humne Hanste Huye Kaha
Pata Nahin… Kuch Apne Muft Me De Gaye.
किसी ने यूँ ही पूछ लिया हमसे
कि दर्द की कीमत क्या है,
हमने हँसते हुए कहा,
पता नहीं कुछ अपने मुफ्त में दे गए।
Dard Kaafi Hai Bekhudi Ke Liye,
Maut Kaafi Hai Zindgi Ke Liye,
Kaun Marta Hai Kisi Ke Liye,
Hum To Zinda Hain Aapke Liye.
दर्द काफी है बेखुदी के लिए,
मौत काफी है ज़िन्दगी के लिए,
कौन मरता है किसी के लिए,
हम तो ज़िंदा है आपके लिए।
Tere Rone Se Unhe Koi Fark Nahin Padta Ai Dil,
Jinke Chahne Wale Jyada Ho Wo Aksar Be-Dard Hua Karte Hain.
तेरे रोने से उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता ऐ दिल,
जिनके चाहने वाले ज्यादा हो वो अक्सर बे-दर्द हुआ करते हैं।
Sab So Gaye Apna Dard Apno Ko Suna Ke,
Koi Hota Mera To Mujhe Bhi Neend Aa Jaati.
सब सो गए अपना दर्द अपनों को सुना के,
कोई होता मेरा तो मुझे भी नींद आ जाती।
Na Dard Hua Seene Me, Na Maathe Pe Shikan Aayi,
Is Baar Jo Dil Toota To Bas Chehre Pe Muskaan Aayi.
ना दर्द हुआ सीने में, ना माथे पे शिकन आयी,
इस बार जो दिल टूटा तो बस चेहरे पे मुस्कान आयी।
Nafrat Karna To Kabhi Seekha Hi Nahin Janaab,
Hamne Dard Ko Bhi Chaha Hai Apna Samajh Kar.
नफ़रत करना तो कभी सीखा ही नहीं जनाब,
हमने दर्द को भी चाहा है अपना समझ कर।

 Dard Bhari Shayari For Girlfriend/Boyfriend

फेर लेते हैं नज़र, दिल से भुला देते हैं,
क्या यूँ ही लोग वाफ़ाओं का सिला देते हैं,
वादा किया था फिर भी ना आए मज़ार पर,
हमने तो जान दी थी इसी ऐतबार पर!!
लिखूं कुछ आज यह वक़्त का तक़ाज़ा है,
मेरे दिल का दर्द अभी ताज़ा ताज़ा है,
गिर पड़ते हैं मेरे आँसू मेरे ही काग़ज़ पर
लगता है कलम में स्याही का दर्द ज़्यादा है!!
आरजू नहीं के ग़म का तूफान टल जाये,
फ़िक्र तो ये है तेरा दिल न बदल जाये,
भुलाना हो अगर मुझको तो एक एहसान करना,
दर्द इतना देना कि मेरी जान निकल जाये!!
मिलने का वादा कर गयी थी,
वापस लौट आउंगी ये कहकर गयी थी,
आई है अब वो जनाज़े पे मेरे,
वादा वो अपना निभाने चली थी!!
एक बार ही जी भर क सज़ा क्यो नही देते?
में हरफ़-ए-ग़लत हूँ तो मिटा क्यो नही देते?
मोती हूँ तो दामन में पिरो लो मुझे अपने,
आँसू हूँ तो पलकों से गिरा क्यूँ नही देते?
साया हूँ तो साथ ना रखने की वजह क्या?
पत्थर हूँ तो रास्ते से हटा क्यूँ नही देते?
मेरी रूह में न समाती तो भूल जाता तुम्हे,
तुम इतना पास न आती तो भूल जाता तुम्हे,
यह कहते हुए मेरा ताल्लुक नहीं तुमसे कोई,
आँखों में आंसू न आते तो भूल जाता तुम्हे!!
इस तरह मिली वो मुझे सालों के बाद,
जैसे हक़ीक़त मिली हो ख़यालों के बाद,
मैं पूछता रहा उस से ख़तायें अपनी,
वो बहुत रोई मेरे सवालों के बाद!!
तिनके तिनके मे बिखरते चले गये,
तन्हाई की गहराइयो मे उतरते चले गये,
जन्नत थी हर शाम जिन दोस्तो के साथ,
एक एक कर के सब बिछड़ते चले गये!!
यू तो खामोश ही रहती है आँखे,
अगर समझ सको तो बहुत कुछ कहती है आँखे,
कौन कहता है की रोती है आँखे,
रोता तो दिल है,
मगर उसे भी कह देती है आँखे!!
ये बेवफा वफा की कीमत क्या जाने,
है बेवफा गम-ऐ मोहब्बत क्या जाने,
जिन्हे मिलता है हर मोड पर नया हमसफर,
वो भला प्यार की कीमत क्या जाने!!
बेनाम सा यह दर्द ठहर क्यों नही जाता,
जो बीत गया है वो गुज़र क्यों नही जाता,
वो एक ही चेहरा तो नही सारे जहाँ मैं,
जो दूर है वो दिल से उतर क्यों नही जाता!!
वो करता है नजर अन्दाज तो,
बुरा मत मान ऐ दिल,
टूटकर चाहने वालो को सताना,
रिवाज है मोहब्बत का!!
हँसते हुए ज़ख्मों को भुलाने लगे हैं हम,
हर दर्द के निशान मिटाने लगे हैं हम,
अब और कोई ज़ुल्म सताएगा क्या भला,
ज़ुल्मों सितम को अब तो सताने लगे हैं हम!!
वो पानी की लहरों पे क्या लिख रहा था,
खुदा जाने वो क्या लिख रहा था,
मोहब्बत में मिली थी नफरत उसे भी शायद,
इसलिए हर शख्स को शायद बेवफा लिख रहा था!!
कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,
कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार गयी,
बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने,
आखिर में उनकी ही बेवफाई मार गयी!!